अगर नाथ देखोगे अवगुण हमारे (Agar nath dekhoge Avgun hamare Lyrics)

अगर नाथ देखोगे अवगुण हमारे, तो हम कैसे भव से लगेंगे किनारे ||





Agar nath dekhoge Avgun hamare Lyrics

Song Credit : Rajanji maharaj


अगर नाथ देखोगे अवगुण हमारे, 
तो हम कैसे भव से लगेंगे किनारे ||

   1. पतितो को पावन  है करते कृपानिधि

       पतितो को पावन  है करते कृपानिधि ,

          किये पाप है  इस सुयस  के सहारे ||

          किये पाप है  इस सुयस  के सहारे ||  

   अगर नाथ देखोगे ..........

     2. हमारे लिए क्यों देर क्यों हो ,

         हमारे लिए क्यों देर क्यों हो ,

         गणिका अजामिल लो पल भर में तारे  ||

         गणिका अजामिल लो पल भर में तारे  ||  

   अगर नाथ देखोगे ..........

      3. ये माना अधम है अपावन कुटिल है , 

          ये माना अधम है अपावन कुटिल है ,        

          सब कुछ है लेकिन  प्रभु हम  तुम्हारे ||

          सब कुछ है लेकिन  प्रभु हम  तुम्हारे || 

 अगर नाथ देखोगे अवगुण हमारे ,

तो हम कैसे भव से लगेंगे किनारे ||


Previous
Next Post »