साँसों की माला पे सिमरूं मैं, पी का नाम भजन लिरिक्स Vidhi Sharma

साँसों की माला पे सिमरूं मैं, पी का नाम भजन लिरिक्स Sanso Ki Mala Pe Simru Main Pee Ka Naam Bhajan Lyrics Vidhi Sharma Krishna Bhajan Lyrics


 साँसों की माला पे सिमरूं मैं, पी का नाम,

अपने मन की मैं जानूँ, और पी के मन की राम,

साँसों की माला पे सिमरूं मैं पी का नाम,

अपने मन की मैं जानूँ और पी के मन की राम,

साँसों की माला पे, सिमरूं मैं पी का नाम,

साँसों की माला पे, सिमरूं मैं पी का नाम,

जीवन का श्रृंगार है प्रीतम, माँग का सिन्दूर,

माँग का सिन्दूर,

जीवन का श्रृंगार है प्रीतम, माँग का सिन्दूर,

प्रीतम की नज़रों से गिर कर, जीना है किस काम,

प्रीतम की नज़रों से गिर कर, जीना है किस काम,

साँसों की,

साँसों की माला पे सिमरूं मैं पी का नाम,

साँसों की माला पे, सिमरूं मैं पी का नाम,


प्रेम के रंग में ऐसी डूबी, बन गया एक ही रूप,

बन गया एक ही रूप,

प्रेम के रंग में ऐसी डूबी, बन गया एक ही रूप,

प्रेम की माला जपते जपते, आप बनी मैं श्याम,

प्रेम की माला जपते जपते, आप बनी मैं श्याम,

साँसों की,

साँसों की माला पे, सिमरूं मैं पी का नाम,

साँसों की माला पे, सिमरूं मैं पी का नाम,


प्रीतम का कुछ दोष नहीं है वो तो है निर्दोष,

वो तो है निर्दोष,

अपने आप से बातें कर के हो गयी मैं बदनाम,

अपने आप से बातें कर के हो गयी मैं बदनाम,

साँसों की,

साँसों की माला पे, सिमरूं मैं पी का नाम,

साँसों की माला पे, सिमरूं मैं पी का नाम,


प्रेम पियाला जब से पिया है, जी का है ये हाल,

जी का है ये हाल,

प्रेम पियाला जब से पिया है, जी का है ये हाल,

अंगारों पे  नींद आ जाए, काँटों पे आराम,

अंगारों पे  नींद आ जाए, काँटों पे आराम,

साँसों की,


साँसों की माला पे, सिमरूं मैं पी का नाम,

साँसों की माला पे, सिमरूं मैं पी का नाम,

साँसों की माला पे सिमरूं मैं, पी का नाम,

अपने मन की मैं जानूँ, और पी के मन की राम,

साँसों की माला पे सिमरूं मैं पी का नाम,

अपने मन की मैं जानूँ और पी के मन की राम,

साँसों की माला पे, सिमरूं मैं पी का नाम,

साँसों की माला पे, सिमरूं मैं पी का नाम,




Saanson ki maala pe simroon main, Pi ka naam Lyrics in English by Vidhi Sharma  



Saanson ki maala pe simroon main, Pi ka naam
Apne mann ki main jaanoon, aur Pi ke mann ki Ram
Saanson ki maala pe simroon main Pi ka naam
Apne mann ki main jaanoon ,aur Pi ke mann ki Ram


Jeevan ka shringaar hai preetam,maang ka sindoor
Maang ka sindoor
Jeevan ka shringaar hai preetam, maang ka sindoor
Preetam ki nazaroon se gir kar, jeena hai kis kaam
Preetam ki nazaroon se gir kar, jeena hai kis kaam
Saanson ki maala pe simroon main Pi ka naam
Saanson ki maala pe simroon main Pi ka naam



Prem ke rang mein aisi doobi, ban gaya ek hi roop
Ban gaya ek hi roop
Prem ke rang mein aisi doobi, ban gaya ek hi roop
Prem ki maala japte japte, aap bani main shyam
Prem ki maala japte japte, aap bani main shyam
Saanson ki maala pe simroon main Pi ka naam
Saanson ki maala pe simroon main Pi ka naam



Preetam ka kuchh dosh nahi hai wo toh hai nirdosh
Wo toh hai nirdosh
Apne aap se baatein karke ho gayi main badnaam
Apne aap se baatein karke ho gayi main badnaa
Saanson ki maala pe simroon main Pi ka naam
Saanson ki maala pe simroon main Pi ka naam



Prem piyala jab se piya hai, ji ka hai ye haal
Ji ka hai ye haal
Prem piyala jab se piya hai, ji ka hai ye haal
Angaaron pe neend aa jaaye, kaanton pe aaram
Angaaron pe neend aa jaaye, kaanton pe aaram
Saanson ki maala pe simroon main Pi ka naam


Saanson ki maala pe simroon main Pi ka naam

Previous
Next Post »